बीते कुछ सालों में दुनियाभर में स्वत:स्फूर्त जन अान्दोलनों की एक लहर को उभरते देखा गया है, अरब स्प्रिंग से लेकर अॉक्यूपाई मूवमेन्ट तक, अौर इसी श्रृंखला में भारत में उभरा भ्रष्टाचार विरोधी जनलोकपाल अान्दोलन, जहाँ बड़ी संख्या में जनता भ्रष्टाचार के विरुद्ध मज़बूत कानून की माँग को लेकर सड़कों पर उतर अाई. लेकिन भारत की इस कथा में अनूठा मोड़ तब अाया जब इस अान्दोलन के एक धड़े ने अलग होकर राजनैतिक पार्टी बनाने का निश्चय किया अौर वे दिल्ली विधानसभा का चुनाव लड़ने के लिए खड़े हो गए. यह इसी पार्टी की कहानी है, ‘अाम अादमी पार्टी’ की कहानी.

‘प्रॉपोज़िशन फ़ॉर ए रेवॉल्यूशन’ दिसम्बर 2012 में ‘अाम अादमी पार्टी’ के गठन से लेकर दिसम्बर 2013 में हुए दिल्ली विधानसभा के चुनावों तक की एक साला अवधि में इस पार्टी के हंगामाखेज़ सफ़र के दस्तावेज़ीकरण का प्रयास करती है.

हमारी टीम

विनय शुक्ला

विनय शुक्ला

पहले से एक सहायक निर्देशक रह चुके, विनय ने अपनी पहली लघु फ़िल्म “Bureaucracy Sonata” २०११ में लिखी और निर्देशित क़ी थी. इस फ़िल्म का पहला प्रदर्शन 42nd अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म फ़ेस्टिवल ऑफ़ इंडिया में हुआ और न्यू यॉर्क SAIFF २०१२ में इसे HBO के सर्वोत्तम लघु फ़िल्म का अवॉर्ड मिला।

खुशबू रांका

खुशबू रांका

खुशबू ने हाल ही में सह लेख़क कि भूमीका निभाई फीचर फ़िल्म शिप ऑफ़ थीसियस में, जिस्का पहला प्रदर्शन टोरोंटो अंतर्राष्ट्रिय फ़िल्म फ़ेस्टिवल २०१२ में हुआ था और उसके बाद यह फ़िल्म दुनिया भर के कई बड़े फ़ेस्टिवलों में आमंत्रित की गई. इन की पहली लघु फ़िल्म, Continuum को भी अनेक अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म फेस्टिवलोंं में दिखाया गया है।

आनंद गांधी

आनंद गांधी

आनंद एक फ़िल्मकार व मीडिआ निर्माता हैँ जो कि दर्शन शास्त्र, मनोवैज्ञानिक उद्भव, नवीन रचनाओँ, डिज़ाइन व जादूगरी मे दिलचस्पी रखते हैं।

अपील, फिल्मकारों की अोर से

जब हमने शूटिंग शुरु की, किसी को नहीं मालूम था कि भविष्य के गर्भ में क्या छिपा है. कम से कम हमें तो बिल्कुल नहीं. लेकिन अाज हम महसूस करते हैं कि हमारे हाथों में इस फिल्म के रूप में एक ऐसा अालोचकीय दस्तावेज़ है जो न सिर्फ एक राजनैतिक दल के उद्भव से विकास तक की कथा कहता है, बल्कि यह बदलाव की उस प्रक्रिया की भी पहचान करता है जिसे हम अपने मुल्क़ के हालिया राजनैतिक विमर्श में घटता देख रहे हैं.

बीते साल में हमें ऐसे दोस्तों का साथ मिला जिन्होंेने इस फिल्म के लिए शहर बदले, नौकरियाँ खोईं अौर वे अपने संसाधन जोड़कर इस फिल्म को पूरा करने में जुट गए. हमें वृत्तचित्र निर्माण के लिए मिलने वाली प्रतिष्ठित IDFA Bertha ग्रांट हासिल हुई अौर फिल्म की प्रस्तावना ने DocEdge में दो पुरस्कार भी जीते.

अब हम अापके पास अाए हैं. अापका सहयोग हमारे लिए इस फिल्म को बेहतर तरीके से पूरा करने में मददगार होगा, वो भी समय की बचत के साथ. अौर यह सुनिश्चित करेगा कि इस फिल्म को जल्द से जल्द अाप तक पहुँचने से कोई न रोक पाए. यह एक दुतरफा प्रक्रिया है, हम चाहेंगे कि अाप इस संवाद का हिस्सा बनें अौर इस फिल्म को अपने मुकाम तक ले जाने में साझेदार हों.

यह फ़िल्म इस वक़्त एक अहम पड़ाव पर है और इसे आपकी जरुरत है. हम फ़िल्म की शूटिंग पूरी कर चुके हैं अौर अब फिल्म पोस्ट-प्रॉडक्शन में है. अभी तक हमने ऐसी कोई आर्थिक मदद नहीं ली है, जिसकी वजह से हमें अपने लक्ष्य से या रचनात्मक स्वतंत्रता से समझौता करना पड़े. अाज हम आपको इस अभियान में शामिल होने के लिए आमंत्रित करते हैं. हमारी वेबसाइट पर जाएँ , हमसे जुड़ें, हमें आर्थिक सहयोग दें और इस अभियान के ज़रिए फ़िल्म का निर्माण अौर प्रदर्शन संभव बनाएं.

prop4rev-poster
progress-bar (1)

Incentives to contributors

1

100 रुपए या उससे अधिक - हम अापके शुक्रगुज़ार रहेंगे अौर अाभारस्वरूप ट्विटर पर अापका नाम पुकारा जाएगा. बूँद बूँद से ही घड़ा भरता है. साथ ही फिल्मकारों की अोर से अापको एक 'जादू की झप्पी' भी.

2

500 रुपए अौर उससे ज़्यादा - अापको मिलेगा फिल्म का डिजिटल कवर पेज इस मुहर के साथ कि अाप इस फिल्म का हिस्सा हैं. यह बाकायदे इसकी ताक़ीद करेगा कि अापने इस फिल्म का होना संभव बनाया है. (अौर पिछला वादा यहाँ शामिल है)

3

1500 रुपए अौर उससे ज़्यादा - अपने कमरे की किसी दीवार को अभी से चुन लें, क्योंकि अापको मिलेगा 'प्रॉप फॉर रेव' फिल्म का निर्देशकों द्वारा दस्तख़त किया हुअा पोस्टर, जिसे अाप अपने घर में लगा सकते हैं अौर जो हमेशा यह याद दिलाता रहेगा कि अापने एक फिल्म के निर्माण में सहायता की है. (अौर पिछले तमाम वादे यहाँ शामिल हैं)

4

2500 रुपए अौर उससे ज़्यादा - देखिए फिल्म के पीछे की कहानी ख़ास 'बिहाइंड-दि-सीन-फुटेज' में, फिल्म में शामिल नहीं हो पाए अनदेखे दृश्य अौर हमारी हार्ड ड्राइव में छिपे दस्तावेज़ भी. (अौर पहले के तमाम वादे यहाँ शामिल हैं ही)

5

3500 रुपए या उससे ज़्यादा - फिल्म के सार्वजनिक प्रदर्शन से पहले ही फिल्म देखने का मौका. अापको मिलेंगे फिल्म के दो बेशकीमती 'प्रिव्यू स्क्रीनिंग' टिकिट मुम्बई या दिल्ली में. क्या हमने अापको बताया कि अाप ये फिल्म इसे बनानेवालों के साथ मिलकर देखेंगे! फ़िकर न करें, हम फिल्म देखते हुए अपने मोबाइल बन्द रखते हैं अौर अापको फिल्म के दौरान ज़रा भी परेशान नहीं करेंगे ;-)

6

5000 रुपए अौर उससे ज़्यादा - 'लिमिटेड-एडीशन-डीवीडी' की पहली प्रति सीधे अापकी डाक में! देखिए, दिखाइये अौर दोस्तों में प्यार फैलाइये. (पिछले तमाम वादों के साथ)

7

10,000 रुपए अौर उससे ज़्यादा - अाप करेंगे फिल्म के प्रदर्शन पर फिल्म के युवा निर्देशकों के साथ स्काइप पर सीधे अामने-सामने की बातचीत, जिसमें अापके सवाल होंगे अौर उनके जवाब. तैयारी अभी से शुरु कर दीजिए अौर अपने मन की बात पूछने में ज़रा भी न हिचकिचाइयेगा! (पिछले तमाम वादों के साथ)

8

25,000 रुपए अौर उससे ज़्यादा - अपनी बात रखिए अौर उसे फिल्म का हिस्सा बनते देखिए. फिल्म का 'रफ़-कट' देखिए अौर निर्देशकों से स्काइप पर सीधी बात कीजिए. अापकी राय फिल्म को एक नया मोड़ दे सकती है. (पहले 6 वादे यहाँ शामिल हैं)

9

35,000 रुपए अौर उससे ज़्यादा - फिल्म के क्रेडिट्स में अपना नाम देखिए इस शीर्षक के साथ, 'जिन्होंने इस फिल्म को संभव बनाया'. क्या पता, सिनेमा की दुनिया में यही अापकी निर्णायक शुरुअात हो. (नम्बर 7 वाले वादे को छोड़ बाक़ी तमाम पिछले वादे यहाँ शामिल)

10

50,000 रुपए अौर उससे अधिक - अापके शहर में 'प्रॉप फॉर रेव' फिल्म की ख़ास स्क्रीनिंग, जिसके मुख्य अतिथि अाप होंगे. अौर साथ ही फिल्म के निर्माता या निर्देशक द्वय में से कोई एक वहाँ मौजूद होगा अापके स्वागत के लिए. अौर हम अापको इस विशेष स्क्रीनिंग के मौके पर क्या पुकारें, हमारे 'ससम्मानीय अतिथि' या 'हुज़ूर-ए-अाला', यह तय करने का मौका भी! (7 नम्बर के वादे को छोड़ बाक़ी तमाम पिछले वादे यहाँ शामिल)

11

1,00,000 रुपए या उससे ज़्यादा - हमारी अगली फिल्म के पटकथा सत्र का हिस्सा बनिए. या फिर उसकी शूटिंग / अानंद गाँधी के साथ प्रशिक्षण सत्र में शामिल हों. (नम्बर 7 वाले वादे को छोड़ बाक़ी तमाम पिछले वादे यहाँ शामिल)

12

2,50,000 रुपए या उससे ज़्यादा - पिछले तमाम वादों के साथ यहाँ अापके पास मौका है अपने सिनेमाई ख़्वाब को सच करने का. हमारी अगली फिल्म में परदे पर एक छोटी भूमिका अापका इन्तज़ार कर रही है!